विशेषण और इसके भेद, उदाहरण सहित (हिन्दी व्याकरण)

नमस्कार दोस्तो, प्रतिदिन की भाँति आज भी हम आप के लिए एक विशेष लेख विशेषण और इसके भेद, उदाहरण सहित लेकर आयें के इस लेख के माध्यम से हम आपको विशेषण कि परिभाषा इसके उदाहरण आदि से सम्बन्धित सम्पूर्ण जानकारी देगे। तो हमारे इसे लेख ध्यान पढें और आगामी Tests में अच्छे अंक प्राप्त करे।

Adjective datails in hindi

विशेषण कि परिभाषा

”जो शब्द किसी संज्ञा अथवा सर्वनाम कि विशेषता बतातें हैं उन्हे विशेषण कहतें है।”

सार्वनामिक विशेषण अथवा संकेतवाचक विशेषण

जो सर्वनाम शब्द किसी संज्ञा से ठीक पहले आकर उसकी तरफ संकेत करते है उन्हे सार्वनामिक विशेषण कहते है।

जैसे

यह आदमी पागल है।

यह व्यक्ति चालाक है।

यह गाय मेंरी है।

वह नौकर नही आया।

उसने मुझे बुलाया।

संख्या वाचक विशेषण

जो शब्द संज्ञा या सर्वनाम कि संख्या बताते है। उन्हें संख्यावाची विशेषण कहते है। यह तीन प्रकार का होता है।

  1. निश्चित संख्या वाचक
  2. अनिश्चित संख्या वाचक
  3. परिणाम वाचक

निश्चित संख्यावाचक विशेषण

जिससे संज्ञा या सर्वनाम की संख्या के बारे में निश्चित रूप से बताया जाता है। कि इसकी इतनी संख्या है तो वहाँ पर निश्चित संख्यावाचक विशेषण होता है। इसके पाँच भेद होते है।

  1. गणना वाचक विशेषण- एक, दो, तीन, चार, सौ………, पाव, आधा, पौन, सवा, ढाई, तिहाई…..।
  2. क्रम वाचक विशेषण- पहला, दूसरा, तीसरा, चौथा, पाँचवा, सौवाँ………….।
  3. समुदाय वाचक विशेषण- दोनों, तीनों, सैकड़ों, हजारों………..।
  4. आवृत्ति वाचक विशेषण- इकहरा, दोहरा, तिहरा, दोगुना, तिगुना, सौगुना, हजारगुना, लाखगुना……।
  5. प्रत्येक बोधकवाचक विशेषण- जिन शब्दो के द्वारा प्रत्येक का बोध होता है। उसे प्रत्येक बोधक विशेषण कहते है। जैसे- हर एक व्यक्ति से मिलना है।, सवा-सवा किलो सेब लेते आना।

अनिश्चित संख्या वाचक विशेषण

जिस विशेषण में संख्या के बारे में जानकारी न हो उसे संख्यावाचक विशेषण कहते है।

जैसे

दंगो में बहुत से लोग घायल हुए है।

दुकान से थोड़ा पेन खरीदना है।

कुछ कुर्सी दे दीजिए।

कुछ व्यक्ति बाहर खड़े है।

परिणाम वाचक विशेषण

परिणाम बोधक विशेषण संख्या वाचक विशेषण के ही एक भाग है। यह दो प्रकार के होते है।

  1. निश्चित परिणाम वाचक
  2. अनिश्चित परिणाम वाचक

निश्चिच परिणाम वाचक विशेषण

जिसमें एक निश्चित मात्रा दी हो।

जैसे

एक लीटर दूध लाओ।

तीन दर्जन केला देदो।

पाँच किलो चीनी चाहिए।

चार सौ गज जमीन चाहिए।

अनिश्चित परिणाम वाचक विशेषण

जो शब्द संज्ञा या सर्वनाम के अनिश्चित परिणाम को बतातें है। उसे अनिश्चित परिणाम वाचक विशेषण कहतें है।

जैसे– थोड़ा, कुछ, बहुत, काफी, पूरा, लगभग, कितना, और, सब, कई, सारा, इतना, जितना, अत्यंत।

उदाहरण

सब समान मेरा है।

पूरी जगह मेरी है।

सब धन लाना है।

काफी सामान बचा है।

Scholars, हमारी यह Put up “विशेषण और इसके भेद, उदाहरण सहित (हिन्दी व्याकरण)”आपको कैसी लगी लगी आप हमें Remark के माध्यम से आप बता सकते है। और जो कुछ भी आप को और जरूरत हो इसके लिए भी आप हमें Feedback कर सकते है।

The put up विशेषण और इसके भेद, उदाहरण सहित (हिन्दी व्याकरण) gave the impression first on SarkariHelp.

]]>

Your in currently Olaa.in » Study Materials Free Downloads for all exam , Neet, UPSC,SSC,TNPSC » विशेषण और इसके भेद, उदाहरण सहित (हिन्दी व्याकरण)

Top Trending Post

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*